हाइलाइट्स

रिसर्च के अनुसार हमारे मूड पर सर्केडियन रिदम का गहरा असर होता है.
इससे पहले भी कई रिसर्च में मूड को लेकर काफी दिलचस्प बातें सामने आई हैं.

New Study on Worst & Best Time: पूरे दिन में कई बार हमारा मूड अच्छा रहता है, तो कई बार मूड खराब हो जाता है. क्या आपने कभी गौर किया है कि आपका मूड किस टाइम सबसे ज्यादा रहता है और किस टाइम खराब हो जाता है? आप सोच रहे होंगे भला मूड का टाइम से क्या लेना-देना है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि मूड का टाइम से गहरा कनेक्शन होता है. यह बात एक हालिया स्टडी में सामने आई है. शोधकर्ताओं ने बताया है कि दिन में कौन सा टाइम मूड के लिए सबसे अच्छा होता है, जबकि कौन सा टाइम मूड के लिए सबसे खराब माना जाता है.

न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक वैज्ञानिकों ने एक नई रिसर्च में बताया है कि सुबह 5 बजे का वक्त मूड और सर्केडियन क्लॉक के लिहाज से सबसे खराब समय होता है. इस वक्त लोगों का मूड लो पॉइंट पर होता है. दरअसल सुबह से ठीक पहले अंधेरा होता है और मूड पर इसका असर पड़ता है. शोधकर्ताओं की मानें तो शाम 5 बजे का वक्त मूड के लिहाज से सबसे अच्छा माना जाता है. अधिकतर लोग इस वक्त सबसे ज्यादा अच्छा महसूस करते हैं. रिसर्चर्स की मानें तो हमारा मूड शरीर की इंटरनल क्लॉक यानी सर्केडियन रिदम से जुड़ा होता है. इसी के अनुसार लोगों का मूड अच्छा और खराब रहता है.

यह स्टडी मिशिगन यूनिवर्सिटी और डार्टमाउथ हेल्थ के शोधकर्ताओं ने मिलकर की है. वैज्ञानिकों की मानें तो मूड, सर्केडियन क्लॉक और अन्य कारकों के आधार पर सुबह और शाम के इस वक्त का पता लगाया गया है. इस रिसर्च में शामिल प्रतिभागी रात को जितनी देर तक जागे, उनका मूड सुबह के वक्त उतना ज्यादा खराब देखा गया. यह स्टडी 2 सालों तक की गई और इसमें 2602 मेडिकल इंटर्न को शामिल किया गया था. रिसर्च में शामिल प्रतिभागियों के फिटबिट डेटा का विश्लेषण करके इस स्टडी का निष्कर्ष निकाला गया है. यह स्टडी PLOS डिजिटल हेल्थ जर्नल में प्रकाशित हुई है.

अब तक कई स्टडी में यह बात सामने आ चुकी है कि सूरज की रोशनी हमारे मूड को काफी हद तक प्रभावित करती है. जिन जगहों पर तापमान बहुत कम रहता है और कई दिनों तक सूर्य नहीं निकलता है, वहां के लोगों की मेंटल हेल्थ बुरी तरह प्रभावित होती है. तापमान बढ़ने और सूरज की किरणें दिखने पर लोग बेहतर महसूस करते हैं. मौसम बदलने पर भी लोगों का मूड बदल जाता है. बड़ी संख्या में लोग गर्मियों के मौसम में बेहतर महसूस करते हैं, जबकि कुछ लोग सर्दियों में भी खुश रहते हैं. अलग-अलग रिसर्च में विभिन्न बातें सामने आई हैं.

यह भी पढ़ें- हाई ब्लड प्रेशर के मरीज कर लें सिर्फ 5 आसान काम, दवा से ज्यादा दिखेगा असर, यकीन न हो तो कर लें ट्राई

यह भी पढ़ें- सिर्फ 1 रुपये में गारंटी से सुधर जाएगी मेंटल हेल्थ ! स्ट्रेस-एंजायटी मिनटों में होगी दूर, हर एग्जाम में करेंगे टॉप

Tags: Health, Lifestyle, Trending news



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *