[ad_1]

राहुल दवे/इंदौर. मां अहिल्या की नगरी में जहां पुरानी इमारतें विरासत के रूप में अपनी पहचान बनाए हुए हैं तो वहीं कुछ स्थान ऐसे भी हैं, जिन्हें खाऊ ठिए के नाम से जाना जाता है. ये ठिए वर्षों से हैं और इनकी अलग ही पहचान है, इन्हीं में से एक है बद्री भैया उर्फ बम की कचौड़ी का खाऊ ठिया. यह ठिया इंदौर में फेमस है, जहां 65 साल पुरानी दुकान पर आज भी वर्षों पुरानी कचौड़ी का स्वाद मिलता है.

दरअसल, इंदौर को स्वाद की राजधानी यूं ही नहीं कहा जाता. यहां पर बनाए जाने वाली स्वादिष्ट कचौड़ी, समोसे और पोहा जलेबी की तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी तारीफ कर चुके हैं. वहीं, शहर में बाहर से आने वालों में चाहे दूसरे देश के ही क्यों न हो यहां के स्वाद के सभी दिवाने हो जाते हैं.

दिनभर बनती है कचौड़ी
इंदौर के इतवारिया बाजार स्थित कांच मंदिर के समीप गली में प्रसिद्ध बद्री भैया उर्फ बम कचौड़ी वाले की दुकान है, जहां दिनभर गर्मा गर्म कचौड़ी बनती है और जितनी तेजी से कचौड़ियां तैयार की जाती है उतनी ही तेजी से बिक भी जाती है. स्वाद के शौकीनों की यहां पर हमेशा भीड़ जमा रहती है.

यह भी पढ़ें- दवाई का बाप है ये जहरीला पत्ता, पैरालिसिस.. जोड़ो में दर्द.. डायबिटीज के लिए रामबाण, जानें और भी फायदे

साइकिल पर 10 पैसे की बेचते थे कचौड़ी
बद्री भैया कई साल पहले इंदौर में साइकिल पर घूम-घूमकर 10 पैसे की एक कचौड़ी बेचा करते थे, बाद में उन्होंने अपनी खुद की दुकान खोल ली और आज लगभग 65 साल बीत जाने के बाद भी यह दुकान उनके बेटे द्वारा संचालित की जा रही है. बद्री भैया के यहां कचौड़ी खाने वाले ग्राहक भी पुराने हैं. जो खुद कभी अपनी पिताजी के साथ यहां पर आते थे, वे अब बुजुर्ग हो चले हैं और अपने नाती-पोतों के साथ कचौड़ी का स्वाद लेने के लिए आते हैं.

कारीगर भी हैं खास
दुकान पर कचौड़ी बनाने वाले बुजुर्ग शख्स कचौड़ी बनाते समय किसी से बात नहीं करते, बस वह अपने काम में व्यस्त रहते हैं. कोई उनसे कुछ पूछता भी है तो बस वे मुस्कुरा देते हैं. उनके हाथ की बनी कचौड़ी के स्वाद के साथ उनकी यह अदा भी निराली और खास है.

Tags: Food, Indore news, Local18, Madhya pradesh news

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *