रजनीश यादव/प्रयागराज: उत्तर प्रदेश भारत का सबसे अधिक जिले वाला राज्य है. यहां के हर जिले की अपनी कहानी, समृद्ध इतिहास और विशेषता है. प्रतापगढ़ में आंवला का प्रमुख रूप से उत्पादन किया जाता है. अमृत फल कहा जाने वाला आंवला प्रतापगढ़ जिले की पहचान से जुड़ा है. अब तो अमृत फल आंवले की धमक देश के अलावा दूसरे देशों तक पहुंच गई है.

प्रयागराज माघ मेले में परेड ग्राउंड में खड़ी ग्राम उद्योग के तहत अपनी दुकान लगाने वाले दिलीप मिश्रा बताते हैं कि प्रतापगढ़ का आंवला विटामिन सी का प्रमुख स्रोत माना जाता है. प्रतापगढ़ की मिट्टी की उर्वरा शक्ति ही ऐसी है कि वह आंवला के पेड़ को पाल रही है. इसी से पूरी दुनिया में प्रतापगढ़ का आंवला मशहूर है. इसे तैयार मुरब्बा, बर्फी, लड्डू सहित प्रोडक्ट बनाए जाते हैं जिसकी सप्लाई देश के कोने-कोने में प्रतापगढ़ से ही होती है.

यह भी पढ़ें- शादी के बाद प्रेगनेंसी प्लानिंग क्यों है जरूरी? इन बातों का रखें ध्यान, स्वस्थ रहेगा बच्चा, जानें डॉक्टर से

आंवला से तैयार होते हैं कई प्रोडक्ट
दिलीप मिश्रा बताते हैं कि आंवले को लोकपाल के रूप में खाना पसंद करते हैं लेकिन इसको फूड प्रोसेसिंग क्रिया द्वारा कई जैसे आंवले की बर्फी, आंवाले का मुरब्बा, लड्डू के साथ ही चॉकलेट में कैंडी तैयार किया जाता है जिसको बच्चे खूब खाना पसंद करते हैं. आंवला की बर्फी 160 रुपए किलोग्राम, कैंडी ₹160 का आधा किलो, मुरब्बा ₹160 का एक डिब्बा और जूस 170 रुपए लीटर मिलता है.

सेहत के लिए है फायदेमंद
आंवला की बढ़ती मांग के पीछे इसका सेहत के लिए काफी फायदेमंद होना है. इसे तैयार जूस शुगर फ्री होता है जहां विटामिन सी का प्रमुख स्रोत होता है जो लिवर को ठीक करने में मदद करता है. इसके अलावा त्वचा से संबंधित रोग आंवले के सेवन से ही ठीक हो जाते हैं.

यहां लगी है स्टॉल
खादी ग्रामउद्योग के तहत परेड ग्राउंड में आंवला की दुकान लगी हुई है जो 3 मार्च तक रहेगा. यह दुकान सुबह 9:00 बजे से लेकर रात में 9:00 बजे तक सभी के लिए खुली रहती है. इसके बाद प्रतापगढ़ का मशहूर आंवला खरीदने का मौका लोगों को प्रतापगढ़ में ही मिलेगा.

Tags: Allahabad news, Health benefit, Health News, Local18, UP news



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *