रिपोर्ट-अंकित राजपूत
जयपुर. एंटीक चीजों के अगर आप शौकीन हैं तो जयपुर का ये मिनी संग्रहालय जरूर देखिए. इसमें आपको मिल जाएंगे 100 साल पुरानी तमाम वो चीजें जो आज भी आपकी रोजमर्रा की जरूरत में काम आते हैं. इस संग्रहालय में रखी ऐंटीक चीजों का इस्तेमाल फिल्मों में भी हो चुका है. कई शोधार्थी शोध कर चुके हैं.

जयपुर के जगतपुरा में रहने वाले विनय कुमार शर्मा ने अपने घर में ही एक मिनी स्टूडियो बना लिया है. नाम रखा है अतीत राग. पिछले 40 साल से वो इसे बनाने में जुटे हैं. उन्हें जो भी मिला वो इस संग्रहालय में रख दिया. अतीत राग स्टूडियों में आजादी से पहले और उससे भी पुराने समय के रेडियो, टेलिफोन, टेलीविजन, ग्रामोफोन, टाइपराइटर, पुराने कैमरे जैसे ढेरों सामान हैं. इस स्टूडियों में रखे एंटिक सामान की देशभर में प्रदर्शनी भी लगाई जा चुकी हैं और कई फिल्मों में भी यहां का सामान इस्तेमाल हो चुका है.

युवाओं के लिए
विनय शर्मा बताते हैं जब वह 11वीं- 12वीं के स्टूडेंट थे तब से उनका आर्कषण इन चीजों के लिए रहा. बस तभी से उन्होंने इन एंटिक चीजों को इकट्ठा करना शुरू किया और धीरे-धीरे एक भव्य मिनी संग्रहालय तैयार कर लिया. ये सभी एंटिक सामान उस समय समाज के लोगों से जुड़े हुए और आज की तकनीक चीजों से बिल्कुल अलग हैं. अतीत राग में 100 साल से पुराना ऐसा कीमत सामान है जो हमारे पूर्वजों ने इस्तेमाल किया.

ये भी पढ़ें- KOTA : 10 रुपए में भरपेट खाना, कोचिंग छात्रों के लिए रिटा.अफसरों ने खोली रसोई, आप भी कर सकते हैं मदद

संग्रहालय पर पीएचडी
विनय शर्मा बताते हैं उन्होंने ये संग्रहालय युवा पीढ़ी के लिए बनाया है ताकि वो भी पुरानी चीजें जान सके. यहां इन एंटिक चीजों को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं. यहां इतना भव्य क्लेशन है कि इन सामानों पर कई शोध स्टूडेंट्स ने Ph D तक कर ली है.

Tags: Jaipur news, Life style, Local18



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *