रिपोर्ट-रवीन्द्र कुमार

झुंझुनू. लहसुन के दाम आसमान छू रहे हैं. महंगाई की तेजी ने लहसुन का स्वाद फीका कर दिया है. थाली से लहसुन की चटनी गायब हो गयी है. परंपरागत राजस्थानी थाली भी बिना चटनी के परोसी जा रही है. राजस्थान में खास तरीके से ये चटनी बनायी जाती है.

लहसुन की चटनी राजस्थानी थाली की पहचान है. शुद्ध घी और तेज मसालों से बने खाने को लहसुन की चटनी पचाती है. ये हाजमे का शर्तिया इलाज है. लेकिन अब मार्केट में लहसुन के भाव में ऐसी तेजी आयी कि लहसुन की चटनी का आइटम हटा दिया गया है.

ऐसे आता है स्वाद
लहसुन सिर्फ सब्जी का स्वाद ही नहीं बढ़ाता, बल्कि इसकी चटनी खाने का जायका ही बदल देती है. लहसुन रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है. इसे बनाना बेहद आसान है. झुंझुनू की वाइसपुरा रोड पर स्थित होटल सेकंड वाइफ के संचालक संजय से लोकल 18 ने बात की. उन्होंने बताया चटनी बनाने के लिए सबसे पहले लहसुन की कलियों को छीला जाता है. उसके बाद घी में लहसुन के साथ मिर्ची, हल्दी, नमक और हरा धनिया डालकर करीब 45 मिनट तक पकाया जाता है.चटनी को स्वादिष्ट बनाने के लिए काचरी को पीसकर डाला जाता है. इससे चटनी में एक अलग ही स्वाद आ जाता है. उसके साथ दही या छाछ भी डाल दिया जाए तो उसका स्वाद दो गुना हो जाता है.

ये भी पढ़ें- अब घर बैठे करें अपना आधार कार्ड अपडेट, बस करना होगा ये छोटा सा काम

महंगाई की मार
संजय ने बताया लहसुन के भाव अभी 250 रुपए से 300 रुपए किलो हो गए हैं. बीच में भाव 350 तक चले गए थे. लहसुन महंगा होने से बहुत फर्क पड़ा है. हम अब इसका कम से कम उपयोग कर रहे हैं. पहले लहसुन 80 रुपए से 100 रुपए किलो मिल जाता था लेकिन आज दो से तीन गुना ज्यादा भाव बढ़ गए हैं.

Tags: Food Recipe, Jhunjhunu news, Local18



Source link

One thought on “Chutney also got affected due to increase in price of garlic, garlic chutney which was available free in food disappeared. – News18 हिंदी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *