धीरज कुमार/मधेपुरा. चंपारण का हांड़ी मटन काफी फेमस है. यह अब बिहार ही नहीं, पूरे देश में एक ब्रांड बन चुका है. विदेशों में लोग इसके काफी दीवाने हैं. वहीं मधेपुरा की बात करें तो यहां के भी यादव लाइन होटल का नॉनवेज काफी फेमस है. इस दुकान पर मिलने वाले हांड़ी मटन का स्वाद काफी अलग है. बता दें कि यादव मटन हर रोज ग्राहकों के सामने खस्सी कटवाता है और फिर जाकर तैयार होता है. 220 रुपए में 3 मनपसंद मटन पीस के साथ में भरपेट चावल मिलता है.

लोकल 18 बिहार से बात करते हुए यादव लाइन होटल के संचालक मुन्ना यादव ने बताया कि हमारे यहां मटन तो 20 सालों से बन रहा है, लेकिन कस्टमर के डिमांड पर हांडी मटन की शुरुआत 3 साल पहले हुई. इन तीन सालों में यादव हांड़ी मटन ने टेस्ट के मामले में पूरे कोसी इलाके में सबको पीछे छोड़ दिया. वहीं वह आगे बताते हैं यादव हांडी मटन के सामने चंपारण मटन कहीं से भी नहीं ठहरता है. यहां ग्राहकों के सामने में 3-4 खस्सी रोज कटता है. फिर सामने में ही मटन तैयार होता है.

मटन बनाने का तरीके
सबसे पहले सभी हंडी में तेल पहले उबाल करके डालते हैं, उसके बाद देसी घी, जीरा, लौंग, इलायची, बड़ी इलायची, जावित्री फूल, अदरक, दाल चीनी, लहसुन, प्याज, सिक्रेट मसाला, हल्दी, धनिया, खड़ा गर्म मसाला को मटन के साथ मिक्स करके सवा घंटे तक कोयला की आंच में हांडी में मटन को पकाते हैं. फिर जाकर यादव हांडी मटन तैयार होता है और फिर गर्मागर्म चावल/रोटी के साथ परोसा जाता है.

हर रोज 60 किलो मटन की खपत
बता दें इस दुकान पर हर रोज 60 किलो मटन आसानी से खपत हो जाती है. इसके अलावा पार्सल की भी सुविधा है. शहर के बैंक ऑफिसर्स इत्यादि हर जगहों पर पार्सल भी जाता है. वही रेट की बात करें तो 1000 रुपया किलो साथ में अलग से ग्रेवी भी देते हैं. इसके अलावा पीस में भी मिलता है. 100 रुपया में एक पीस 220 रुपया में 3 पीस मटन मिलता है.

Tags: Bihar News, Local18



Source link

One thought on “3 साल में ही फेमस हुआ यादव जी का हांडी मटन, स्वाद के दीवानों की लगती है भीड़”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *