आउटडोर गेम्स सेहत के लिहाज से जोखिम भरे हो सकते हैं. क्रिकेट रग्बी जैसे खेलों में तो चोट का खास ख्याल रखते हुए कई उपकरणों का उपयोग होता है. पर फुटबॉल का खेल तो बहुत ही जोखिम हो जाता है. बहुत से लोग मानते हैं कि यह खेल सिर पर चोट लगने के खतरे को देखते हुए सबसे जोखिम वाला खेल होता है. पर एक रिसर्च में वैज्ञानिकों ने यह पता लगाया है कि इस मामले में सबसे खतरनाक खेल कौन सा है. आपको यकीन नहीं होगा कि शोधकर्ताओं ने टेनिस के खेल को सबसे खतरनाक बताया है.

टेनिस एक खतरनाक
सिर पर चोट लगने को कनकशन इंजुरी कहा जाता है लेकिन इसमें कुछ ही तरह की चोटों को कनकशन इंजुरी माना जाता है. ये चोटें सीधे दिमाग को प्रभावित करती है. पर टेनिस इनके लिहाज से खतरनाक खेल हैं. अमेरिका के डालास के सदर्न मेथडिस्ट यूनिवर्सिटी (एसएमयू) ने यही दावा किया है.

चोट लगने की संभावना कम, लेकिन जोखिम है
शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में यह तो माना है कि टेनिस के खेल में सिर की चोट लगने की संभावना कम है, लेकिन असंभव नहीं है. एएसएमई जर्नल ऑफ एप्लाइड मैकेनिक्स में प्रकाशित अध्ययन में उन्हें अपने इस दावा के बारे में विस्तार से बताया है. यूनिवर्सिटी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर जिन लिन गाओ और उनके छात्र योंगकियांग ली ने कम्प्यूटर मॉडलिंग का उपयोग कर नतीजे निकाले.

Brain Injury risk is more in Tennis, concussions and other head injuries ,Football, Soccer, Tennis, Head injuiries, Brain injuries, OMG, Amazing News, Shocking News, Viral On Internet, Trending News in hindi, Viral News in hindi, viral trending news, Trending Latest News, Trending news, Interesting News, bizarre news, Viral on Social Media, Viral On Internet, odd news, strange news, viral on internet, ajab gajab, offbeat news, ajeebogarib, khabar hatke, zara hatke news, bizarre news, trending news,

सॉकर जैसे खेलों में चोट लगने का जोखिम ज्यादा होता है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Wikimedia Commons)

टेनिस की गेंद खतरनाक क्यों?
शोधकर्ताओं ने यह पता लगाया कि क्या होगा जब इंसान के सिर पर टेनिस की गेंद अलग-अलग कोणों, गति और जगह पर लगेगी. उन्होंने पाया कि हलके ट्रमैटिक दिमागी चोटें या कनकशन बहुत कम लगती है, लेकिन अगर टेनिस की गेंद की गति 40 मीटर प्रति सेकेंड की दर से अधिक हो तो ऐसा हो सकता है. यह चीते के भागने की गति से भी तेज है.

दूसरे खेलों से जोखिम ज्यादा
स्टडी में पाया गया कि गेंद माथे या सिर के ऊपर लगने की जगह सिर के बगल में लगने के अधिक संभावना होती है. इसके साथ ही 90 डिग्री के कोण से चोट लगने की संभावना अधिक होती है, 30-60 डिग्री के कोण से चोट लगने की कम. वहीं सॉकर या फुटबॉल जैसे खेल में खिलाड़ियों के टकराव या गिरने से लगने वाली चोट का खतरा उतना ज्यादा नहीं होता है.

यह भी पढ़ें: 7 साल की बच्ची जाती है जिम, एब्स देख बड़े-बड़े शर्मा जाएं, मां को होना पड़ता है ट्रोल

टेनिस बॉल देखने में उतनी खतरनाक नहीं लगती है, लेकिन इसका असर बहुत अधिक हो सकता है. इसकी चोट दिमाग का कामों को खराब कर सकती है. कन्कशन जानलेवा चोट तो नहीं होती पर इससे  हफ्तों, महीनों तक दिमाग पर असर हो सकता हैजिससे सिरदर्द से लेकर एकाग्रता में परेशानी तक हो सकती है.

Tags: Ajab Gajab news, Bizarre news, OMG News, Weird news



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *