हाइलाइट्स

यह समझना जरूरी है कि चीजें हमेशा योजना के अनुसार नहीं होती.
एक मैच्‍योर इंसान अपने पार्टनर पर अपना विचार थोपता नहीं है.

Emotional maturity in relationship: किसी भी रिश्‍ते को गहरा और मजबूत बनाना आसान नहीं होता. खासतौर पर जिस रिश्‍ते को आपने चुना है और जीवनभर के लिए हाथ थामा है, ऐसे रिलेशनशिप को अटूट रखने के लिए समय और इच्‍छा शक्ति की जरूरत होती है. कई बार देखा गया है कि लोगों की बचकानी हरकतें रिश्‍ते को कमजोर करने का काम कर जाती हैं और मजबूत से मजबूत रिश्‍ता मिनटों में टूटकर बिखर जाता है. हेल्‍थलाइन के मुताबिक, अपने पार्टनर के प्रति जिम्‍मेदार रहना, सिंपेथी रखना, गलतियों को माफ करना और बढ़ाई करना जैसा कैरेक्‍टर होते हैं, ऐसे गुण रिश्‍ते में मैच्योरिटी को दिखाता है और वे एक दूसरे का साथ हमेशा देने को तैयार हो जाते हैं.

इमोशनल मैच्योरिटी बढ़ाने का तरीका (How to gain Emotional maturity in relationship)

गलतियों को मांफ करना
गलतियां किसी से भी हो सकती है और इमोशन में कोई भी इंसान नकारात्‍मक रवैया अपना सकता है. यह बात मेच्‍योर इंसान समझते हैं और अपने पार्टनर से हुई गलतियों को यह सोचकर आसानी से माफ कर देते हैं. इस तरह उनके बीच की अंडरस्‍टैंटिंग और मजबूत बन जाती है.

फ्लेक्सिबल होना
एक मेच्‍योर इंसान यह समझ सकता है कि चीजें हमेशा योजना के अनुसार नहीं होतीं, ऐसे में उसे स्‍वीकार कर आगे बढ़ना जरूरी होता है. वह बुरे हालात में टूटता नहीं, बल्कि पॉजिटिव सोच के साथ आगे बढ़ता है और रिश्‍ते को मजबूत बनाए रखने का प्रयास करता है.

इसे भी पढ़ें :मजबूत रिश्‍ते की पहचान है Respect, आपका पार्टनर कितना करता है इज्‍जत, 5 संकेतों से लगाएं पता

जिम्मेदारी लेना
इमोशनली अगर आप परिपक्व हैं तो अपने अच्छे या बुरे काम और व्‍यवहार की जिम्‍मेदारी आप खुद उठा सकते हैं और ऐसा ना कर पाने पर मांफी मांग सकते हैं. ऐसे इंसान शांत स्‍वभाव के होते हैं और भावनाओं के बहाव में बहते नहीं हैं.

पार्टनर के विचार का सम्‍मान
एक मेच्‍योर इंसान अपने पार्टनर पर अपना विचार थोपता नहीं है बल्कि उसे इस बात का एहसास होता है कि वह अपने पार्टनर के विचारों का सम्‍मान करे और उसके सोच को खुले दिमाग से स्‍वीकार करे.

अवसर ढूंढ लेना
भावनात्मक रूप से परिपक्व इंसान नए अनुभवों और स्थितियों को स्‍वीकारता है और उससे सीखने, आगे बढ़ने और खुद को बेहतर बनाने के रूप में देखता है.

इसे पढ़ें: हंसती खेलती जिंदगी के लिए खुशहाल परिवार जरूरी, झगड़े की इन 5 वजहों से रहें दूर, फैमिली बॉन्डिंग रहेगी अटूट

Tags: Lifestyle, Relationship



Source link

39 thoughts on “बचकानी हरकतों से टूट जाते हैं मजबूत से मजबूत रिश्‍ते, जानें रिलेशनशिप में किस तरह दिखाएं इमोशनल मैच्योरिटी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *