हाइलाइट्स

ठंड के मौसम में बच्चों को जायफल खिलाने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है.
जायफल से सीजनल बुखार और सर्दी-जुकाम की समस्या दूर रहती है.

Nutmeg Benefits: हमारे घर की रसोई तमाम औषधियों की खान मानी जाती है. दरअसल, रसोई में कई ऐसे मसाले होते हैं, जो खाने का स्वाद तो बढ़ाते ही हैं साथ ही सेहत का भी ख्याल रखते हैं. लेकिन जानकारी न होने से लोग उसका उचित लाभ नहीं ले पाते हैं. ऐसे ही एक मसाले का नाम है जायफल. जी हां, घरों में जायफल को दादी-नानी के नुस्खों के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है. यह बच्चों के लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है. क्योंकि जायफल के सेवन से सर्दी, जुकाम, अपच, मुंह के छाले, पेट और कान दर्द से बचाव होता है. साथ ही, जायफल में एंटीबैक्टीरियल और एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं, जोकि बच्चों में इम्युनिटी बढ़ाने के साथ इंफेक्शन से दूर रखते हैं. यही कारण है कि आयुर्वेद में इसका वर्षों से इस्तेमाल किया जा रहा है. अब सवाल है कि ठंड में जायफल बच्चों के लिए कैसे फायदेमंद? किन बीमारियों से रखता है दूर? इन सवालों के बारे में बता रहे हैं बलरामपुर चिकित्सालय लखनऊ के आयुर्वेदाचार्य डॉ. जितेंद्र शर्मा-

ठंड में बच्चों को जायफल चटाने के फायदेमंद

खांसी-जुकाम से बचाए: आयुर्वेदाचार्य डॉ. जितेंद्र शर्मा के मुताबिक, ठंड में जायफल बच्चों के लिए एक बड़ी औषधि होती है, जोकि कई बीमारियों से बचाव करती है. दरअसल, छोटे बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर होने से बीमारियां उन पर जल्दी अटैक करती हैं. ऐसे में जायफल का सेवन करा सकते हैं. ऐसा करने से सीजनल इंफेक्शन होने का खतरा कम होता है. साथ ही बच्चे का सर्दी-जुकाम से भी बचाव होगा. क्योंकि, जायफल तासीर में गर्म होती है. इसे खाने से खांसी में आराम मिलता है. इसका सेवन जायफल को पीसकर शहद में मिलाकर बच्चे को चटाना होगा. जायफल के पाउडर को घी में मिलाकर छाती पर लगाने से जड़कन कम होती है.

अपच में राहत दिलाए: डॉ. जितेंद्र बताते हैं कि, सर्दी में बच्चों को जायफल का सेवन कराने से अपच में राहत मिलती है. दरअसल, बच्चों को कई बार अपच की समस्या हो जाती है. इस परेशानी से बचने के लिए आप जायफल का इस्तेमाल कर सकते हैं. दरअसल, जायफल को कूट लें और इसे घी या शहद में मिला कर बच्चे की नाभि पर लगाए. ऐसा करने से पेट के दर्द की समस्या दूर हो जाएगी. साथ ही बच्चे का मेटाबोलिज्म भी तेज होता है.

मुंह के छाले ठीक करे: कई बार बच्चों को मुंह में छाले हो जाते हैं जिससे खाने-पीने में परेशानी होती है. छाले की समस्या होने पर बच्चे को जायफल खिलाएं. जायफल और मिश्री मिलाकर बच्चे को दें. इससे पेट को ठंडक मिलेगी और छाले ठीक हो जाएंगे. छोटे बच्चे को जौ के पानी में मिश्री और जायफल पाउडर मिला कर देने से भी राहत मिलती है.

ये भी पढ़ें:  Calcium Rich Foods: कैल्शियम की पूर्ति के लिए मछली नहीं तो क्या खाएं? शरीर के लिए है बेहद जरूरी, डाइटिशियन से जानें 5 शाकाहारी फूड

कान दर्द में आराम: बच्चों को कान में दर्द होने पर जायफल खिला सकते हैं. जायफल में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जिससे कान के दर्द और सूजन में आराम मिलता है. इसके एंटी बैक्टीरियल गुण से कान की गंदगी साफ हो जाती है. जायफल को पीस लें और लेप बना कर कान के पीछे लगा दें. इसस कान का दर्द और सूजन कम हो जाएगी. आप चाहें तो सहसों के तेल में जायफल मिलाकर बच्चे का कान में डाल सकते हैं.

ये भी पढ़ें:  200 से ज्यादा दवाओं का कॉम्बो पैक है यह पेड़, बिना फोड़े फल खाने से हड्डियों में आती है जान, थम जाता है बुढ़ापा

भूख बढ़ाए: डॉ. जितेंद्र शर्मा बताते हैं कि, दूध में जायफल मिलाकर पिलाने से बच्चे की भूख खुलती है. इससे मेटाबॉलिज्म तेज होता है. जायफल खाने से इम्यूनिटी मजबूत होती है और डाइजेशन में भी सुधार आता है. बच्चों की भूख बढ़ाने के लिए जायफल का इस्तेमाल कर सकते हैं.

Tags: Baby Care, Health tips, Lifestyle, Winter season



Source link

One thought on “ठंड में बच्चों के लिए अमृत है ये छोटा फल, मात्र 1 चुटकी 5 बीमारियों की कर देगी छुट्टी, डॉक्टर से जानें खाने का तरीका”
  1. I have read some excellent stuff here Definitely value bookmarking for revisiting I wonder how much effort you put to make the sort of excellent informative website

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *